आइ.एम.एस ने बढ़ाया स्नेहा का प्रोत्साहन


डांस इंडिया डांस 3 की प्रतिभागी स्नेहा गुप्ता ने आज आइ.एम.एस नॉएडा के कम्युनिटी रेडियो रेडियो स्टेशन सलाम नमस्ते ९०.४ में शिरकत की। स्नेहा ने यहाँ सलाम नमस्ते की स्टेशन हेड बरशा छबाड़िया को रेडियो शो एक पहल के लिए इंटरव्यू दिया। बचपन से ही स्नेहा का रुझान डांस की ओर था, और इनका कहना है कि जब ये पहली कक्षा में थीं तब से ही इन्होने डांस प्रतियोगिता में भाग लेना शुरू कर दिया था।
स्नेहा ने डांस इंडिया डांस सीजन 3 2012 में टॉप 9 में अपनी जगह बनाई। स्नेहा ने डांस इंडिया डांस का अपना अनुभव बताते हुए कहा की टेरंस सर की टीम का एक सदस्य होना अपने आप में बड़ी बात है और टेरंस सर से बहुत कुछ सीखने को मिला।
स्नेहा की माँ सुमित्रा गुप्ता ने बताया की स्नेहा को डांस का शौक बचपन से ही है। कहीं भी गाने की धुन सुनते ही स्नेहा की पैर धिरक्ने लगते है। उन्होने बताया की स्नेहा मात्र १० वर्ष की आयु में ही कमाना शुरू कर दिया था और पहली कमाई २००० रुपए की ।
स्नेहा ने बताया की डांस के उनके इस शौक को उनकी माँ ने पहचाना और उभरने का मौका दिया। साथ ही साथ डांस इंडिया डांस में भाग लेने की लिए उनके भाई बहन ने भी उन्हे प्रोत्साहित किया। 
बोर्ड की परीक्षा दे रहे छात्रों की लिए स्नेहा ने सलाह दी की अगर किसी कारनवश अगर अच्छे नंबर नहीं मिल पातें तो भी निराश नहीं होना चाहिए क्योकि हर इन्सान मे कोई न कोई हुनर जरुर होता है जो आपको ख्यति दिलाने में आपकी सहायता करता है 
स्नेहा ने बताया की उन्होने अभी सिर्फ बारहवीं तक की ही पढाई की है पर अपने डांस की हुनर से आज वो जेनिथ डांस अकादमी मे डांस ट्रेनर है और कमा रहीं है स्नेहा ने बताया की कोरियोग्राफर बनने से ज्यादा वों किसी भी डांस में लीड डांसर बनना पसंद करेंगीं।
स्नेहा के प्रशंशकों को उन्हे परफोर्म करते हुए 22 अप्रैल को डांस इंडिया डांस के फाइनल्स में एक बार फिर देखने का मौका मिलेगा।
स्नेहा ने बताया की डीआईडी के बाद ज़िन्दगी और भी रोमांचक हो गयी है समाज में उन्हे एक नयी पहचान मिली है और अब कई डांस कार्यक्रम के ओफेर्स भी आने लगे हैं।
स्नेहा के इस टैलेंट को देख कर आइ.एम.एस ने इन्हें आगे पढने के लिए सौ प्रतिशत स्कॉलरशिप देने का भी एलान किया है। 
सलाम नमस्ते इनके इस टैलेंट को सलाम करता है।

Comments

Popular posts from this blog

THE ROLE OF INPUT & OUTPUT DEPARTMENT IN NEWS CHANNELS

आईएमएस में बीबीए हाट का आयोजन

Why BCA course is still in demand by the youth as an Undergraduate course?